Home Top Ad

चाणक्य नीति: कुछ महत्वपूर्ण बातें

Share:
नमस्कार दोस्तों! एक बार फिर से हिंदी रूम की वेबसाइट आपका स्वागत है, आज इस पोस्ट के माध्यम से हम जानेंगे "चाणक्य नीति"

चाणक्य नीति



आचार्य चाणक्य के बारे में तो आप जानते ही होंगे और कैसे न जाने, आचार्य चाणक्य भारतीय इतिहास में अपनी अति बुधिमत्ता और कूटनीति के वजह से बहुत प्रसिद्ध है| मौर्य सम्राज्य के संस्थापक चन्द्रगुप्त मौर्य के गुरु आचार्य चाणक्य राजनीती और कूटनीति में अत्यंत कुशल थे और इनके ही निर्देशों पर का पालन करके ही चन्द्रगुप्त ने आपने साम्राज्य की नीव रखी|

चाणक्य निति क्या है?

जैसा की नाम से ही प्रतीत होता है कि आचर्य चाणक्य की नीतियों का संग्रह| आचार्य चाणक्य की नीतियाँ व्यक्ति के संबंधों, शत्रुओं के पहचान और राजनीती की जानकारी दिया गया है, इसीलिए चाणक्य निति को जानना सबके लिए अत्यंत आवश्यक है|



चाणक्य निति की कुछ मुख्य बातें


  • अज्ञानी से वाद विवाद न करें, इसमे स्वयं का समय और उर्जा नष्ट होता है|
  • सवयं की कमजोरी किसी अन्य को न बताये|

  • जीवन में ज्ञान का बहुत महत्त्व है,कहीं से भी ज्ञान की प्राप्ति हो उसे स्वीकार करना चाहिए| ज्ञान कभी व्यर्थ नही होता, जीवन में कभी न कभी आपको उसका लाभ अवश्य मिलेगा|

  • अगर आप सफल होना चाहते हो तो सदैव अपने आँख और काम खुले रखों, अर्थात हमेशा सतर्क रहों|

  • सभी के जीवन में अच्छे और बुरे समय आते है, अच्छे समय में धन का कुछ भाग बचा कर रखना चाहिए जिससे बुरे समय में वो धन आपके काम में आ सके|

  • अपने आत्मविश्वास को कम न होने दे,  जैसे ही आत्मविश्वास कम हुआ आप सफलता से दूर होने लगोगे|

  • आलस्य सफलता का सबसे बड़ा शत्रु है, समय रहते ही इसे त्याग दे अथवा बाद में पश्यताप के अलावा कुछ नही होगा आपके पास|

  • ऐसे लोगो से दोस्ती न करें जो आपसे उच्च या निम्न श्रेणी के है|

  • चरित्र को सुरक्षित रखें, एक बार धनहीन व्यक्ति फिर से धन प्राप्त कर सकता है लेकिन चरित्रहीन व्यक्ति दोबारा चरित्र की प्राप्ति नही कर सकता|

  • किसी गलत कार्य करके कमाया गया धन व्यर्थ है, उससे अच्छा तो निर्धन रहना ही है|





उम्मीद है दोस्तों आपको "चाणक्य नीति" समझ में आ गया होगा और इसका पालन जरुर करे दोस्तों, किसी चीज को पढने का लाभ तभी होता है जब उसका पालन किया जाये|

No comments