History of Windows | Winows 1.0 to Winows 10

Share:

History of Windows

हैलो दोस्तों
आपने सबसे पहली कौन सा ऑपरेटिंग सिस्टम चलाया था ?
शायद आपने Windows XP चलाया होगा या Windows Vista
या फिर किसी ने सीधा Windows 7 को चलाया होगा
और फिलहाल Windows का लेटेस्ट वर्शन Windows 10 है
और शायद आपको पता होगा कि माइक्रोसॉफ्ट का पहला ऑपरेटिंग सिस्टम WIndows DOS था
पर शायद आपको Windows DOS से लेकर Windows 10 का सफ़र आपको पता नही होगा

आज मैं आपको इस आर्टिकल में इसी के बारे में बताउगा

History of Windows

History of Windows One Hindi Blog




Read Also

MS DOS

सन् 1981 में माइक्रोसॉफ्ट ने अपना पहला ऑपरेटिंग सिस्टम रिलीज़ किया था जिसका नाम MS DOS था

DOS का मतलब डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम है

माइक्रोसॉफ्ट ने इसको IBM के लिए पर्सनल कंप्यूटर के लिए बनाया था

WIndows DOS में UI के नाम पर कुछ भी नही था

ये सिर्फ कमांड प्रोमोट पर चलता था पर फिर भी इसको पर्सनल कंप्यूटर की शुरुआत कहा जाता है

Winows 1.0 to Winows 10

Windows 1.0

इसके चार साल बाद 20 नवम्बर 1985 में Windows 1.0 को लांच किया जिसको थोडा बहुत इम्प्रोव किया गया था
इसमें माउस का यूज़ होना शुरू हो गया था
इसका सपोर्ट 21 दिसम्बर 2001 में बंद हो गया था

 Windows 2.0

22 नवम्बर 1987 में माइक्रोसॉफ्ट ने Windows 2.0 को लांच किया जिसकी UI में सुधार हुआ

इसमें आप कीबोर्ड शॉर्टकट यूज़ कर सकते थे और इसमें पहली बार डेस्कटॉप  आइकॉन नजर आया

और इसमें एक्सटर्नल ग्राप्फिक का भी सपोर्ट आ गया था
इसका सपोर्ट 21 दिसम्बर 2001 में बंद हो गया था

Windows 3.0

1990-1994 के बीच में Windows में WIndows 3.0 और 3.1 को लांच किया था जो बहुत पोपुलर हुए

इनमे फाइल मनेजर , 64-बिट कलर शो होने लगे थे

Windows 3.0 से ही कंप्यूटर में गेम कि शुरुआत हुई थी

इन Windows के साथ Solitire जैसे गेम आये थे
इसका सपोर्ट 21 दिसम्बर 2001 में बंद हो गया था

Windows 95

1995 में माइक्रोसॉफ्ट ने Windows 95 को लांच किया था जिसको ऑफिस में यूज़ किया जाने लगा था

इसमें एक्स्ट्रा सॉफ्टवेर इनस्टॉल होने लगे और इसी में प्लगइन एंड प्ले सपोर्ट आया था जिससे आप आसानी ने प्रिंटर जैसे डिवाइस आसानी से जोड़ सकते हो

शायद आपको पता ना हो इससे पहले के ऑपरेटिंग सिस्टम में आपको फाइल का नाम सिर्फ 8 करेक्टर का यूज़ कर सकते थे पर Windows 95 में आप जितने चाहो उतने करेक्टर का फाइल नाम रख सकते हो
इसका सपोर्ट 21 दिसम्बर 2001 में बंद हो गया था


Windows 98

25 जून 1998 में माइक्रोसॉफ्ट ने Windows 98 को लांच किया जिसमे पहली बार इन्टरनेट एक्स्प्लोरर को इंट्रोड्यूस कराया गया था
इस विंडोज में फाइल एक्सेस का यूज़ हुआ जिससे आप आसानी से अपनी फाइल को कंप्यूटर में कॉपी पेस्ट कर सकते थे
पहली बार इसी वर्जन में USB DVD को सपोर्ट किया गया
इसका सपोर्ट 11 जुलाई 2006 में बंद हो गया था

History of Windows

Windows 2000

यह माइक्रोसॉफ्ट का पहला ऑपरेटिंग सिस्टम था जिसको लैपटॉप में यूज़ किया गया
इसको 17 फरवरी 2000 में लांच किया गया
इस वर्जन में नेटवर्क शेयरिंग बहुत आसान हो गयी थी
इसी कारण से इसमें इन्टरनेट बहुत आसानी से चलने लगा
इसका सपोर्ट जुलाई 2010 में बंद हो गया

Windows ME ( Millennium Edition )

यह Windows 2000 का अपडेटेड वर्जन था
इसमें Boot In Doc सिस्टम को हटा लिया गया था जिससे बूटिंग टाइम कम हो गयी

Windows XP

यह माइक्रोसॉफ्ट का सबसे कामयाब और सबसे पोपुलर वर्जन था
पर शायद कुछ ही लोगो को पता होगा कि यह XP का क्या मतलब है XP का मतलब eXPerience है
इसको ऑपरेटिंग सिस्टम को 25 अक्टूबर 2001 में लांच किया गया था
इस ऑपरेटिंग सिस्टम में वायरलेस टेक्नोलॉजी को यूज़ किया जाने लगा
इसके लांच के बाद कंप्यूटर घर-घर में इस्तेमाल होने लगा

Windows Vista 

इसको माइक्रोसॉफ्ट ने 30 जनवरी 2007 में लांच किया गया था
इसमें Windows XP के एरर को सोल्वे किया गया था
जैसे आप जानते ही होंगे कि Windows XP में कितने एरर आती थी और कितने ही वायरस आते थे
इस ऑपरेटिंग सिस्टम में सिक्यूरिटी लेवल को बढाया गया
इसमें पॉवर मैनेजमैंट अच्छी हो गयी जिससे लैपटॉप ज्यादा देर तक चलता था
और इसमें बूटिंग टाइम बहुत ही कम हो गया था
जैसे आपने देखा होगा कि Windows XP कितनी देर में चलती थी
इसका सपोर्ट 30 जनवरी 2017 में बंद हो गया

Windows 7

माइक्रोसॉफ्ट का यह ऑपरेटिंग सिस्टम सबसे ज्यादा स्टेबल रहा और सबसे ज्यादा बिका
क्योकि इसकी UI बहुत अच्छी है और इसमें वर्चुअल हार्डडिस्क का सपोर्ट भी था
शायद आपको पता नही होगा पर यह माइक्रोसॉफ्ट का पहला ऑपरेटिंग सिस्टम था जो टच इंटरफ़ेस को सपोर्ट किया
इसमें इन्टरनेट एक्स्प्लोरर 8 आया जो थोडा बहुत पहले वालो से ठीक था
और 14 जनवरी 2020 को माइक्रोसॉफ्ट इसका सपोर्ट करना बंद कर देंदे मतलब उसके बाद इसमें कोई अपडेट नही आयेंगे और ये आउटडेटिड हो जाएगी


Windows 8

26 अक्टूबर 2012 माइक्रोसॉफ्ट टच लैपटॉप के लिएएक नया ऑपरेटिंग सिस्टम लांच किया
इसमें मेट्रो थीम को यूज़ किया गया जो पूरी तरह फ़ैल हुई
लोगो को पुरानी थीम अच्छी लगी
और इसका स्टार्टअप भी चेंज किया गया था और शुरुआत में टाइल्स नजर आती थी
इसी वहज से यह Windows काफी फ़ैल हुई
यह एकमात्र माइक्रोसॉफ्ट का ऑपरेटिंग सिस्टम था जिसको चार साल के अंदर ही बंद कर दिया
12 जनवरी 2016 को इसका सपोर्ट बंद कर दिया
इसमें फाइल प्रोगेस डायलॉग को इमप्रोवे किया था बस यही एक अच्छा फीचर था

Windows 10

WIndows 8 के बाद माइक्रोसॉफ्ट ने एक अलग ऑपरेटिंग सिस्टम बनाया जो गलती उन्होंने Windows 8 में की थी उनको सुधारा गया और 29 जुलाई 2015 को एक नया ऑपरेटिंग सिस्टम लांच किया जिसका नाम WIndows 10 रखा गया
यह कहा गया कि ये Windows 8 और Windows 9( जो माइक्रोसॉफ्ट ने लांच नही की ) का कॉम्बिनेशन है
पर इसमें भी टाइल्स यूज़ हो रही थी
पर इसमें कुछ यूनिक फीचर आए जैसे कि इन्टरनेट एक्स्प्लोरर की जगह Edge आया जो उससे काफी फ़ास्ट था और कम रीसोर्स यूज़ करता है
शायद आपको पता ना हो कि Google Chrome ज्यादा बैटरी यूज़ करता है जबकि माइक्रोसॉफ्ट एज कम बैटरी यूज़ करता है
इसमें Cortana को इंट्रोड्यूज कराया गया जो वोईस कमांड पर काम करता है
और Windows 10 में पहली बार वर्चुअल डेस्कटॉप यूज़ होने लगा जिससे आप दो डेस्कटॉप या इससे ज्यादा यूज़ कर सकते हो
पर जब ये लांच हुई तब ये अफवा फैली कि Windows 10 आपकी जासूसी करता है जिसके चलते माइक्रोसॉफ्ट को बहुत नुक्सान उठाना पड़ा
आपको पता नही होगा पर 14 अक्टूबर 2025 को इसका सपोर्ट बंद हो जायेगा

मैंने आपको Windows Server और Windows NT के बारे में नही बताया क्योकि ये सर्वर यूज़ के लिए बनाई गयी थी

तो किस लगी आपको मेरी यह पोस्ट


Read Also

2 comments:

  1. trending news UP government has completed one year in this occasion they announced that they will give 4 lacs job in government department

    ReplyDelete